Wednesday, July 24, 2024
राजनीतीशिक्षाहिमाचल

प्रदेश के चिकित्सा महाविद्यालयों में उपलब्ध होगीं विश्व स्तरीय सुविधाएंः मुख्यमंत्रीशिमला:23 अप्रैल, 2023

Spread the love

प्रदेश के चिकित्सा महाविद्यालयों में उपलब्ध होगीं विश्व स्तरीय सुविधाएंः मुख्यमंत्री
शिमला:23 अप्रैल, 2023
मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने आज जिला मण्डी के श्री लाल बहादुर शास्त्री राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, नेरचौक में एमबीबीएस चिकित्सकों के प्रथम दीक्षांत समारोह की अध्यक्षता की। इस अवसर पर उन्होंने प्रथम बैच के चिकित्सकों को इंटरनशिप सर्टिफिकेट प्रदान किए। उन्होंने विद्यार्थियों की मांग पर चिकित्सा महाविद्यालय में खेल मैदान तथा अतिरिक्त हॉस्टल का निर्माण करने के लिए महाविद्यालय प्रबन्धन को भूमि का चयन करने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने अपने संबोधन में कहा कि वर्तमान में चिकित्सकों को भी चुनौतियों से गुजरना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि चुनौतियों से निपटने के लिए कड़ा परिश्रम करना पड़ता है और मेहनत के बाद ही सफलता हासिल होती है। सरकारी क्षेत्र में रोजगार के सीमित अवसर होने के बावजूद राज्य सरकार चिकित्सकों को रोजगार के अवसर प्रदान करने की दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि चिUकित्सा विज्ञान में तकनीकी बदलावों के दृष्टिगत चिकित्सकों को नई तकनीक अपनाकर आगे बढ़ना होगा।
ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि राज्य सरकार डिपार्टमेंट ऑफ इमरजेंसी मेडिसन बना रही है, जिसके तहत चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टाफ आठ घंटे की शिफ्ट में काम करेंगे। इससे आपातकालीन सेवाओं में गुणवत्ता बढ़ने के साथ-साथ चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टॉफ स्वस्थ भी रहेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य के चार चिकित्सा महाविद्यालयों शिमला, टांडा, नेरचौक, हमीरपुर में रोबोटिक सर्जरी शुरू करने जा रही है। शिमला और टांडा चिकित्सा महाविद्यालयों में लेटेस्ट पैट स्कैन और सीटी स्कैन की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में चिकित्सा महाविद्यालयों में विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी और राज्य सरकार इस पर गंभीरता के साथ कार्य कर रही है। हमीरपुर में कैंसर का आधुनिक अस्पताल निर्मित किया जा रहा है। राज्य सरकार ने मेडिकल सर्विस कॉरपोरेशन का गठन किया है, जिससे सरकारी खरीद में पारदर्शिता आएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पेयजल की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रयास कर रही है और प्रदेश की सभी पेयजल योजनाओं में चरणबद्ध तरीके से यूवी आधारित वॉटर प्यूरिफाइर की तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा।
ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि पिछली सरकार के वित्तीय कुप्रबंधन के कारण राज्य की आर्थिक स्थिति चिंताजनक थी, जिस कारण राज्य सरकार को 6 हजार करोड़ रुपये का ऋण लेना पड़ा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की अर्थव्यवस्था को चार वर्ष में पटरी पर लाया जाएगा, जिसके लिए कड़े फैसले लेने होंगे।

उन्होंने कहा कि व्यवस्था परिवर्तन और प्रदेश हित में निर्णय लिए जा रहे हैैंं और आने वाले पीढ़ी इन निर्णयों से लाभान्वित होगी। आगामी दस वर्षों में हिमाचल प्रदेश देश का सर्वाधिक समृद्ध राज्य बनेगा। प्रदेश सरकार ने राज्य के राजस्व में वृद्धि करने की दिशा में विरोध के बावजूद प्रदेश में संचालित की जा रही जल विद्युत परियोजनाओं में विद्युत उत्पादन पर जल उपकर लगाया है, जिससे एक वर्ष में 1800 करोड़ रुपये का राजस्व आर्जित होगा। इस निर्णय के संबंध में हरियाणा और पंजाब सरकार से भी चर्चा की गई है।
राज्य सरकार ने शराब की रिटेल दुकानों को नीलाम कर राजस्व में 40 प्रतिशत की वृद्धि की है, जबकि पिछली भाजपा सरकार ने दुकानों के आवंटन को रिन्यू करके राजस्व को हानी पहुंचाई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पर्यटन क्षेत्र को भी प्रोत्साहन प्रदान कर रही है, जिसके तहत कांगड़ा को प्रदेश की पर्यटन राजधानी बनाया जा रहा है और कांगड़ा हवाई अड्डे का विस्तार किया जा रहा है। इसके साथ-साथ मंडी और अन्य क्षेत्रों को भी पर्यटन के दृष्टिगत बढ़ावा प्रदान किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि आईजीएमसी महाविद्यालय, शिमला ने देश को सर्वश्रेष्ठ चिकित्सक प्रदान किए हैं। आईजीएमसी से शिक्षा ग्रहण करने के उपरान्त चिकित्सक दिल्ली के सर्वश्रेष्ठ चिकित्सा संस्थानों में सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजकीय महाविद्यालय संजौली के सीएसए का चुनाव जीता और 17 वर्ष की आयु में वह सीआर बने थे। उन्होंने हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में बिताए दिनों को भी याद किया।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. (कर्नल) धनी राम शांडिल ने कहा कि विद्यार्थी के जीवन में कॉलेज का समय महत्वपूर्ण होता है। सभी उत्तीर्ण विद्यार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने इस महाविद्यालय की स्थापना के लिए काफी प्रयास किए हैं और आज यहां बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हैं, जिससे आम लोगों को भी सुविधाएं मिल रही हैं।
कार्यक्रम के दौरान महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।
इससे पूर्व, सुंदरनगर हैलीपेड पहुंचने पर मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया गया।
इस अवसर पर विधायक चंद्रशेखर, पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर एवं प्रकाश चौधरी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सोहन लाल ठाकुर, चंपा ठाकुर, पवन ठाकुर, नरेश चौहान, चेत राम ठाकुर, जीवन ठाकुर, महेश राज, सुरेंद्र पाल ठाकुर, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के निदेशक डॉ. गोपाल बैरी, उपायुक्त अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक सौम्या सांबशिवन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *